तबलीगी जमात के खिलाफ टिप्पणी करना युवक को पड़ा महंगा, गोली मारकर की हत्या

*   यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना का संज्ञान लिया   


*  लौटन निशाद ने तबलीगी जमात के खिलाफ एक टिप्पणी की थी


*   मृतक के परिवार को मुआवजे के रूप में 5 लाख रुपये देने की घोषणा


 


प्रयागराज:  तबलीगी जमात के खिलाफ टिप्पणी करने पर चाय की दुकान पर एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई. मृतक की पहचान लौटन निशाद के रूप में हुई है. यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना का संज्ञान लिया है और मृतक के परिवार को मुआवजे के रूप में 5 लाख रुपये देने की घोषणा की है. साथ ही आदेश दिया है कि आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (एनएसए) के तहत मामला दर्ज किया जाए.


बड़ी खबर: क्या जान-बूझकर मजदूरों को दिल्ली से बाहर भिजवा रही थी केजरीवाल सरकार? अब हुआ बड़ा खुलासा



यह वारदात रविवार की सुबह करेली इलाके में हुई. लौटन निशाद ने तबलीगी जमात के खिलाफ एक टिप्पणी की थी और वहां मौजूद मोहम्मद सोना ने उसे गोली मार दी. आरोपी को मौके से ही गिरफ्तार कर लिया गया. इस बीच, मुख्यमंत्री ने स्पष्टीकरण मांगा है कि लॉकडाउन के दौरान चाय की दुकान कैसे खुली थी. उन्होंने दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ भी कार्रवाई के आदेश दिए हैं.


                      वहीं तबलीगी जमात के लोग अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं. गाजियाबाद-दिल्ली के बाद अब जमातियों ने कानपुर मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों और नर्सों के साथ बदतमीजी की है. डॉक्टरों के साथ बदतमीजी का यह वीडियो वायरल हो रहा है. वीडियो में साफ दिख रहा है कि जमाती कानपुर मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में डॉक्टरों से बदसलूकी कर रहे हैं. जगह-जगह थूक रहे हैं, एक साथ इकट्ठे होकर डॉक्टरों से बहस लड़ा रहे हैं. जमाती सीढ़ियों पर और वार्ड में जगह-जगह थूक रहे हैं. बीड़ी-सिगरेट की मांग कर रहे हैं. डॉक्टरों के विरोध करने पर हाथापाई पर भी उतारु हो गए. विरोध करने पर दवाई ना खाने की बात करने लग जाते हैं.


यह भी पढ़ेंः यह 6 इलाके हुए रेड जोन घोषित, घर से बाहर निकलने पर लगेगा 5 लाख का जुर्माना


                    जमातियों को लगता है कि डॉक्टर अपनी मर्जी से हमें यहां कैद कर रखा है. अपनी गलत हरकतों से जीवन देने वाले डॉक्टर भी परेशान हो गए हैं. कानपुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल के अंदर से तबलीगी जमात के लोगों की हरकतों की EXCLUSIVE तस्वीरें आई हैं. बता दें कि भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के संकट को बढ़ाने वाले तबलीगी जमात के लोगों पर नर्सों के साथ अश्लील हरकत करने और डॉक्टरों पर थूकने को लेकर मामला दर्ज होने के बावजूद यह लोग नहीं सुधरे और शनिवार को भी देश के अलग-अलग राज्यों में अस्पताल कर्मियों को परेशान करने वाला रवैया जारी रहा. गाजियाबाद के एक अस्पताल में तबलीगी जमात में आइसोलेटेड कोरोना संदिग्धों द्वारा अश्लील हरकतें और छेड़छाड़ करने का मामला सामने आने के बाद अब दिल्ली के ताहिरपुर स्थित राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल से भी ऐसी ही शर्मनाक घटना सामने आई है.


ताजा खबरों के लिए जुड़े रहें Time For News हिन्दी के साथ


www.facebook.com/timefornews.hindi/ फेसबुक पर हम से जुड़े


Popular posts