मुज़फ्फरनगर में अन्नपूर्णा फ्लोरमिल सील

मुज़फ्फरनगर : [टाईम फॉर न्यूज़-विकास कुमार ] मुजफ्फरनगर के खतौली में अन्नपूर्णा एग्रो फुड रूलर मिल के संचालकों ने जनपद में बनाए गए क्वारंटिन सेंटरों पर खादय सामग्री के साथ-साथ भोजन पहुंचाने का टेंडर लिया था, जिसमें रूलर मिल का लाईसेंस समय से रिनीवल न होने पर लाईसेंस कैंसिल होने की शिकायत पर डीएम के आदेश के बाद एसडीएम समेत खादय निरीक्षक टीम ने मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल करने के बाद वहां पर रखी खादय सामग्री के सैम्पिल लेने के बाद फ्लोर मिल को सील कर दिया गया।



दरअसल मामला खतौली कस्बा का है, जहाँ मेरठ निवासी पारस जैन तथा उसके मित्र नाजिर की पत्नी आफिया ने मिलकर 1 फर्म बनाई थी, जो कस्बे के सफेदा रोड पर स्थित अन्नपूर्णा फुड रूलर मिल के नाम से संचालित है, इनकी फर्म का लाईसेंस 20 फरवरी 2020 को रिनिवल होना था, लेकिन वह नही करा पाए, इसी बीच जनता कफ्र्यू के बाद लाॅक डाउन शुरू हो गया, सारे सरकारी दफ्तर बंद होने पर लाईसेंस रिनीवल न होने के कारण निरस्त हो गया, उधर मेरठ तथा मुजफ्फरनगर में बनाए गए कोरंटिन सेंटरों पर रखे गए व्यक्तियों को जाते समय खादय सामग्री का एक पैकिट प्रशासन की ओर से दिया जा रहा है


ये भी पढ़े- कोरोना की अब तक की सबसे बड़ी उछाल, 24 घंटे में 4 हजार से ज्यादा मरीज


जिसका टेंडर अन्नपूर्णा एग्रो फुड रूलर मिल के नाम से छुट गया था, दोनों जगह पर यह सप्लाई कर रहे थे, बताया जा रहा है कि उक्त फर्म के संचालकों ने कोरटिंन सेंटरों पर रह रहे व्यक्तियों के खाना सप्लाई का भी टेंडर डाला था, जिसमें 75 रुपये प्रति व्यक्ति की डाईट के हिसाब से ले लिया। जिसमें दोनों समय का खाना तथा दोनों समय का नाश्ता भी शामिल था, यह टेंडर इन्हें दो दिन पहले ही मिला था, शुक्रवार को भोजन की सप्लाई का काम शुरू किया गया, सभी सेंटरों पर खाना देते समय यह चरथावल सेंटर पर खाना लेकर देरी से पहुचे I


ये भी पढ़े- मोदी सरकार को लगा 400 करोड़ रुपये का चूना लगाकर: चावल व्यापारी देश छोड़कर हुआ फरार


डीएम मुजफ्फरनगर के साथ प्रवेक्षक भी पहुंचे थे, जिस पर डीएम ने कड़ी नाराजगी जाहिर की थी, उधर फर्म का लाईसेंस निरस्त होने के बाद भी टेंडर डालने की शिकायत होने पर डीएम मुजफ्फरनगर सेल्वा कुमारी जे ने एसडीएम खतौली को मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल कर फ्लोरमिल सील करने के आदेश दिए थे, एसडीएम खतौली इंद्राकांत द्विवेदी, चीफ फूड सिक्योटी आफिसर विवेक कुमार के साथ कोविड 19 की खादय सामग्री के नमूनों के साथ-साथ वहां पर रखे सभी माल की गिनती कराकर फ्लोर मिल को सील कर दिया।



ताजा खबरों के लिए जुड़े रहें Time For News हिन्दी के साथ



 



बड़ी खबरें


ये भी पढ़े- शामली में कोरोना संक्रमित मिलने से जिले में फिर हुई वापसी


ये भी पढ़े- ट्रकों में चोरी छुपे जानवरो की तरह अपने घर जाने को मजबूर: मज़दूर


ये भी पढ़े- 1 से 15 जुलाई के बीच होंगी 10वीं और 12वीं की शेष परीक्षाएं: CBSE Exams 2020


ये भी पढ़े- मेरठ में कोरोना से 10वीं मौत, भाजपा महानगर अध्यक्ष के PSO ने दिल्ली एम्स में दम तोड़ा


Popular posts